​पुरानीबस्ती पर प्रकाशित सभी ख़बरें सिर्फ अफवाह हैं, किसी भी कुत्ते और बिल्ली से इसका संबंध मात्र एक संयोग माना जाएगा। इन खबरों में कोई सच्चाई नहीं है। इसे लिखते समय किसी भी उड़ते हुए पंक्षी को बीट करने से नहीं रोका गया है। यह मजाक है और किसी को आहत करना इसका मकसद नहीं है। यदि आप यहाँ प्रकाशित किसी लेख/व्यंग्य/ख़बर/कविता से आहत होते हैं तो इसे अपने ट्विटर & फेसबुक अकाउंट पर शेयर करें और अन्य लोगों को भी आहत होने का मौका दें।

मेरी प्यास बड़ी है

आज कल के इस माहौल में हर कोई भाग रहा है और उसकी लालसा मिट नहीं रही है। उसे उजगार करती हुई पुरानी बस्ती की एक कविता।


आप भी पुरानी बस्ती के चैनल पर स्टोरी टेलर बने  पुरानी बस्ती इस पृष्ठ से अपनी कोई भी मनपसंद रचना चुने व्यंग, कहानिया, कविता और अपनी आवाज में रिकॉर्ड कर के उसे हमें भेज दे। 

टिप्पणियाँ