​पुरानीबस्ती पर प्रकाशित सभी ख़बरें सिर्फ अफवाह हैं, किसी भी कुत्ते और बिल्ली से इसका संबंध मात्र एक संयोग माना जाएगा। इन खबरों में कोई सच्चाई नहीं है। इसे लिखते समय किसी भी उड़ते हुए पंक्षी को बीट करने से नहीं रोका गया है। यह मजाक है और किसी को आहत करना इसका मकसद नहीं है। यदि आप यहाँ प्रकाशित किसी लेख/व्यंग्य/ख़बर/कविता से आहत होते हैं तो इसे अपने ट्विटर & फेसबुक अकाउंट पर शेयर करें और अन्य लोगों को भी आहत होने का मौका दें।

#व्यंग्य - बिक गए कूलफन्नी

सोशल मीडिया की ताकत को अब सब लोग मानने लगे हैं और उसी के साथ कुछ ट्रोल ने इतनी ताकत हासिल कर ली कि वो आज सोशल मीडिया पर सेलेब्रिटी बने फिरते हैं। ऐसे ही एक सेलेब्रिटी है कूलफन्नी टीशर्ट है। इनकी तारीफ में इतने पन्ने भर सकता हूँ जितना एक आपिया श्री श्री केजरीवाल के बारे में लिख सकता है (इस लेख और कूलफन्नी की तारीफ करने के लिए मुझे पहले ही पैसे मिल चुके हैं)

श्री नरेन्द्र मोदी के परम मित्र और भक्त सर राजदिप सरदेसाई को जब अपने चैनल से नौकरी छोड़नी पड़ी (वैसे मैं लात मारकर निकाल दिया लिखना चाहता था लेकिन कूलफन्नी ने कहा इस पंक्ति के प्रयोग पर वो मुझे RT नही देंगे) तब उनके पास बहुत खाली समय था और फिर उन्होंने एक किताब लिखी, २०१४ के चुनावों पर और उसे इतनी बार लॅान्च किया कि एक दिन किताब ने स्वयं प्रकट होकर कहा भाई बस कर नही तो मैं आत्महत्या कर लूंगी।

इस बात को बहुत कम लोग जानते हैं कि सर राजदिप अपने कूलफन्नी के बहुत बड़े फैन हैं, यदि आपको भरोसा नही तो सर राजदिप को ईमेल लिखकर देखो। आपको आटोरिप्लाय आएगा "मैं तो सागरिका का मैन, कूलफन्नी टीशर्ट का फैन"। किताब के मार्केट में आने के बाद उसका प्रमोशन बहुत जरुरी है और सर राजदिप जानते थे कि सोशल मीडिया पर कूलफन्नी से बड़ा सेलेब्रिटी कोई नही है,

राजदिप ने कूलफन्नी को पैसे लेकर किताब प्रमोट करने के लिए कहा (मैंने भी एक बार कहा था लेकिन कूलफन्नी ने अपनी औकात से अधिक पैसा माँगा तो मैं डीडी न्यूज़ पर बिना पैसे दिए प्रमोशन के लिए पहुंच गया) और कूलफन्नी अपने सोशल मीडिया के फेम को कुछ करोड़ रुपए के लिए बेच दिया। उनके इस कार्य में उनके मित्र मैथुन ने भी उनकी मदद की। मैंने अपने फोटोग्राफर डीके के साथ मिलकर कुछ ऐसी तस्वीरें ली जहाँ कूलफन्नी अपने चेले सर राजदिप की किताब बेच रहे हैं। एक फोटो को राजदिप ने कैमरा छीनकर डिलीट कर दिया जिसमें वो अंधेरी स्टेशन के बाहर अपनी किताब ६०₹ में बेच रहें हैं।

किताब प्रमोशन के दौरान कुछ लल्लू काँग्रेसीयो ने ट्विटर पर राजदिप को धमकी दे दी और उसके बाद कूलफन्नी कुछ और पैसे लेकर सर राजदिप के बॅाडीगार्ड बन गए। सुनने में आया है कि जल्द ही सलमान अपने बॅाडीगार्ड शेरा को हटाकर कूलफन्नी और उनके ट्विटर गैंग को सोशल मीडिया पर अपना बॅाडीगार्ड रखने वाले हैं। कूलफन्नी का काम ये होगा कि जो भी ट्विटर पर सलमान भाई का मजाक उड़ाए उन्हें ट्विटर पर कूट दो।

हमारी मेहनत से ली गई तस्वीरों के साथ आपको छोड़ जाते हैं। ऐस रजनी अन्ना सेड "डॅान्ट अनडरएस्टिमेट पावर ओफ ट्विटर ट्रोल।




धन्यवाद
@पुरानीबस्ती
पुरानीबस्ती को सब्सक्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें

इस व्यंग्य पर अपनी टिप्पणी हमे देना ना भूलें। अगले सोमवार फिर मिलेंगे एक नए व्यंग्य के साथ। 







1 टिप्पणी:

  1. बहुत बढ़िया, मैं अपना हैंडल बेचना चाहता हूँ। कूल फन्नी से बोलकर उसका ऐड ट्विटर पर चलवा दो सर। 20% फन्नी और 20% आपको दे दूंगा ~ एक ट्____________

    उत्तर देंहटाएं